Jhandu ke chutkule

एक बार एक मास्टर बोल्या क्लास में : बताओ बालको, लेट्रिन किस किस के बन रही है ?

झंडू ने छोड़ के सबने हाथ ठा लिया ।

मास्टर बोल्या : रे झंडू , के बात , थारे लेट्रिन कोनी बन री के ।

झंडू बोल्या : ना मास्टर जी, म्हारे तो दाल बन रही है ।


यु जाड्डे का मौसम और धुंद का नज़ारा ।

चाय के दो कप । एक म्हारा और

दूसरा भी म्हारा।

चाय गेल कोई समझौता नहीं लाड़लो।

Leave a Reply


WhatsApp chat